Breaking News

सीएम अमरिंदर ने कहा- विशेषज्ञों का अनुमान है कि सितंबर मध्य में सबसे ज्यादा प्रभावी होगा कोरोनावायरस, 58% भारतीय संक्रमित होंगे

गुरदासपुर जिले के कस्बे दीनानगर में कर्फ्यू का उल्लंघन कर घूम रहे लोगों को पुलिस ने इस तरह भगाया। पंजाब में कर्फ्यू को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है।
गुरदासपुर जिले के कस्बे दीनानगर में कर्फ्यू का उल्लंघन कर घूम रहे लोगों को पुलिस ने इस तरह भगाया। पंजाब में कर्फ्यू को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है।

  • अमरिंदर ने कोरोना को लेकर विशेषज्ञों को अनुमानों का जिक्र किया, इसके कुछ देर बाद राज्य में लॉकडाउन बढ़ाया गया
  • पंजाब में अभी तक 132 कोरोना पॉजिटिव, 10 की मौत; अमरिंदर ने कहा- राज्य संक्रमण के दूसरे चरण में पहुंच गया

पंजाब ने शुक्रवार को लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया है। ओडिशा के बाद लॉकडाउन बढ़ाने वाला पंजाब दूसरा राज्य हो गया है। यहां अभी तक कोरोना से 10 लोगों की जान गई है। 132 केस सामने आए हैं। पंजाब से मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि विशेषज्ञों ने अनुमान जाहिर किया है कि महामारी सितंबर महीने के मध्य में सबसे ज्यादा प्रभावी होगी और इससे 58 फीसदी भारतीय संक्रमित होंगे। सीएम ने कहा है कि पंजाब में करीब 87 फीसदी लोगों के संक्रमित होने की आशंका है।

अभी हालात ऐसे नहीं कि पाबंदियां हटाई जाएं- अमरिंदर
इससे पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अमरिंदर ने कहा था कि हमारी सरकार लॉकडाउन को बढ़ाने पर गंभीरता से विचार कर रही है, क्योंकि अभी हालात ऐसे नहीं हैं कि पाबंदियां हटा ली जाएं। इसके थोड़ी देर बाद पंजाब सरकार ने लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने का ऐलान कर दिया।

“राज्य में अब कम्युनिटी संक्रमण का खतरा’
अमरिंदर ने कहा कि हमारे पास टॉप क्लास डॉक्टरों की टीम है और उनका मानना है कि अभी तो ये बस लड़ाई की शुरुआत है। अगले कुछ महीनों में भारत में हालात बहुत खराब हो सकते हैं। ऐसे हालात में कोई भी सरकार प्रतिबंधों में ढील देने के बारे में नहीं सोच सकती है। हमें संक्रमण के फैलाव पर नजर रखनी होगी। मुख्यमंत्री ने कहा- गुरुवार को राज्य में सबसे ज्यादा 27 मामले सामने आए। यह संक्रमण की दूसरी स्टेज की तरफ इशारा कर रहा है। यह इस बात का भी इशारा है कि अब कम्युनिटी संक्रमण का खतरा है। आने वाले कुछ हफ्तों में हालात और ज्यादा खराब हो सकते हैं, लेकिन हम अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं।

“15 हजार करोड़ की मदद नाकाफी है’

अमरिंदर सिंह ने केंद्र द्वारा जारी किए गए 15 हजार करोड़ रुपए के फंड को नाकाफी बताया है। उन्होंने कहा कि 140 करोड़ भारतीयों के लिए यह रकम कैसे पर्याप्त हो सकती है। बिना केंद्र सरकार की मदद के कोई भी राज्य यह लड़ाई नहीं लड़ सकता है, क्योंकि किसी के पास भी संसाधन नहीं हैं। केंद्र सरकार को राज्यों की मदद के लिए आगे आना चाहिए और उन्हें और ज्यादा रकम देनी चाहिए। इसके चलते ही राज्य राशन, रहने-खाने और दवाओं जैसी व्यवस्थाएं कर सकेंगे।

About admin

Check Also

यह तस्वीर मुरादाबाद के जिला अस्पताल की है। यहां कोरोना संक्रमित मरीज (बीच में बुके के साथ) को पूरी तरह से स्वस्थ्य होने पर डॉक्टरों ने गुलदस्ता देकर विदा किया।

न तो मरीज के संपर्क में आए, न विदेश गए फिर भी 39.2% लोग कोरोना संक्रमित मिले, सांस के मरीजों में भी बढ़ा संक्रमण का खतरा

यह तस्वीर मुरादाबाद के जिला अस्पताल की है। यहां कोरोना संक्रमित मरीज (बीच में बुके …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *