Breaking News

जब चीन ने दुनिया को आगाह किया, तब कोरोना के 34 मामले थे, पिछले सौ दिनों में मामले 45 हजार गुना बढ़ गए

When China warned the world, there were 34 cases of corona, cases increased by 45 thousand times in the last hundred days.

  • 31 दिसंबर 2019 को चीन ने डब्ल्यूएचओ को कोरोनावायरस के बारे में आगाह किया था
  • चीन में कोरोना से पहली मौत 9 जनवरी को हुई, 3 महीने में दुनियाभर में 89 हजार से ज्यादा लोगों की जान गई

नई दिल्ली. 2020 की शुरुआत के एक दिन पहले से शुरू हुआ कोरोनावायरस का प्रकोप अब 100 दिन पूरे कर चुका है। चीन ने 31 दिसंबर को वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन को इस रहस्यमय बीमारी को लेकर अलर्ट किया था। तब चीन में कोरोनावायरस के संक्रमण के मात्र 34 मामले थे। पिछले 100 दिनों में ये मामले 45,000 गुना बढ़ गए। इस वायरस से पहली मौत चीन में 9 जनवरी को हुई थी। अब 3 महीने के बाद दुनियाभर में 89 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। पूरी दुनिया में 1,532,439 लोग संक्रमित हो चुके हैं। अरबों लोग घरों में कैद हो गए हैं, दुनियाभर की अर्थव्यवस्था खतरे में है।

इस वायरस से सबसे ज्यादा मौतें इटली में हुई हैं। खास बात यह है कि इटली में 55वें दिन (23 फरवरी 2020) पहली बार तीन मौतें हुईं थीं। इसके बाद के 45 दिनों में यहां 17,669 लोगों की मौत हो गई। भारत में इस वायरस से पहली मौत 11 मार्च को हुई थी। आइये जानते हैं इस वायरस की शुरुआत से अब तक क्या-क्या हुआ?

दिन-1, केस- 34 (31 दिसंबर 2019)
चीन ने वर्ल्ड हेल्थ आर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) को पहली बार अलर्ट किया कि उसने एक नए प्रकार के कोरोनावायरस को पाया है। हालाँकि, नवंबर और दिसंबर में वुहान में निमोनिया के कई मामले सामने आए थे, लेकिन 31 दिसंबर वह तारीख थी जब दुनिया का ध्यान रहस्यमयी बीमारी की ओर गया था।

दिन-10, केस- 63 (9 जनवरी 2020)
इस वायरस से चीन में पहली मौत हुई। हालांकि, चीन ने इसकी घोषणा दो दिन बाद की थी।

दिन-24, केस-654 (23 जनवरी 2020)
चीन में हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान को लॉकडाउन किया गया। डब्ल्यूएचओ ने इस वायरस के ह्यूमन टू ह्यूमन ट्रांसमिशन के सुबूत देखे।

दिन-32, केस-9,927 (31 जनवरी 2020)
चीन से यह वायरस निकलकर ब्रिटेन पहुंचा। 31 जनवरी को ब्रिटेन में इस वायरस से संक्रमित पहला केस मिला।

दिन-43 , केस-44,802 (11 फरवरी 2020)
इस नए प्रकार के कोरोनावायरस का नाम ‘कोविड-19’ रखा गया।

दिन-46, केस- 66,885 (14 फरवरी 2020)
अफ्रीका महाद्वीप में पहला केस मिला और साथ ही फ्रांस में इस वायरस से पहली मौत रिकॉर्ड की गई।

दिन-55, केस- 78,958 (23 फरवरी 2020)
इटली में इस वायरस से तीन मौतें हुईं। इसके साथ ही यहां के सार्वजनिक कार्यक्रमों को कैंसल किया जाने लगा।

दिन-69, केस- 109,821 (8 मार्च 2020)
इटली का सबसे प्रभावित क्षेत्र लोम्बार्डी को लॉकडाउन किया गया। इसके साथ ईरान भी इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुआ।

दिन-72, केस- 125,875 (11 मार्च 2020)
वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने इस बीमारी को महामारी घोषित किया।

दिन-76, केस- 167,454 (15 मार्च 2020)
स्पेन में पहली बार एक दिन में 100 मौतें हुईं। इस वायरस से एक दिन में होने वाली 15 मार्च तक की ये सबसे ज्यादा मौतें थीं।

दिन-86, केस- 467,653 (25 मार्च 2020)
भारत में टोटल लॉकडाउन घोषित किया गया और यहां की 130 करोड़ की जनसंख्या घरों में कैद हो गई। इस दिन ही अमेरिका में कांग्रेस ने 2 ट्रिलियन का इमरजेंसी प्रोग्राम पास किया।

दिन-88, केस- 593,291 (27 मार्च 2020)
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन कोरोनावायरस संक्रमित पाए गए।

दिन-94, केस- 1,013,320 (2 अप्रैल 2020)
दुनियाभर में कोरोनावायरस के संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख के ऊपर पहुंच गई। इसके साथ ही इससे होने वाली मौतों की संख्या 75,000 हो गई।

दिन-100, केस- 1,511,104 (8 अप्रैल 2020)
दुनियाभर में इस वायरस से 89,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

(डेटा स्रोत- जॉन हॉपकिंस वेबसाइट)

अब अगले 100 दिनों में क्या हो सकता है?
इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि इटली और स्पेन में संक्रमण के मामलों में कमी आई है। यहां प्रतिदिन आने वाले संक्रमण के मामलों में मामूली गिरावट है। हालांकि, ब्रिटेन और अमेरिका इटली से दो हफ्ते पीछे लग रहे हैं। यहां अभी इटली जैसे हालात होने का अनुमान है। भारत में भी संक्रमण की रफ्तार हाल ही में तेजी से बढ़ी है। इससे भारत के लिए भी खतरा दिख रहा है। अभी तक इस बीमारी का सटीक इलाज नहीं खोजा जा सका है। वर्तमान में दुनियाभर में कोविड-19 के लिए 40 से ज्यादा वैक्सीन पर काम चल रहा है। उम्मीद है कि अगले 100 दिनों में दुनिया को कारगर वैक्सीन मिल जाए। हालांकि, वैज्ञानिकों का कहना है कि वैक्सीन बनने में 12 से 18 महीने तक लग सकते हैं।

About JC Merry

Check Also

डब्ल्यूएचओ प्रमुख गेब्रेयेसिएस ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प और चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग को एकजुट रहने की सलाह दी। दोनों नेताओं से कहा है कि वे महामारी रोकने पर ध्यान दें। (फाइल)

पहले कोरोना पर हो रही राजनीति को क्वारैंटाइन करो, महामारी को लेकर आरोप-प्रत्यारोप आग से खेलने जैसा: डब्ल्यूएचओ प्रमुख

डब्ल्यूएचओ प्रमुख गेब्रेयेसिएस ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प और चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग को एकजुट रहने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *